Tulsi Pujan Diwas 2023 : जानिए 25 दिसंबर को क्यों मनाया जाता है तुलसी पूजन दिवस ?

एक तरफ जहां आज 25 दिसंबर को दुनिया भर मेंक्रिसमस डेमनाया जा रहा हैवहीं दूसरी तरफहिंदू शास्त्र के अनुसार आज के दिन तुलसी पूजाबनाई जाती हैजहां सभी लोग क्रिसमस की पार्टी मेंव्यस्त है वहीं दूसरी तरफछत्तीसगढ़ की राजधानी रायपुर मेंतुलसी पूजन दिवस मनाने की लोगों से अपील की जा रही हैपूजा का महत्व सनातन धर्म में बहुत ही शुभ माना जाता हैबात करें हिंदू धर्म की दो हिंदू धर्म मेंसभी लोग सुबह-सुबह तुलसी का पूजन कर तुलसी माता पर जल चढ़करप्रार्थना करके अपने दिनचर्या की शुरुआत करते हैंशास्त्रों के अनुसारलक्ष्मी देवी का वासतुलसी में होता है। और तुलसी माता की पूजा करने से घर में सुख समृद्धि आती है।

25 दिसंबर कोतुलसी दिवस मनाया जाता हैहिंदू धर्म में तुलसी के पौधे को बहुत पवित्र माना गया है ,तो उसी में मां लक्ष्मी के स्वरूप का वास होता है , और मां लक्ष्मी के स्वरूप की पूजा की जाती है। हिंदू शास्त्रों के अनुसारजो भी सुबह उठकर सच्चे मन सेतुलसी के पवित्र पौधे की पूजा करता है , और उसमें जल समर्पित करता है घर में हमेशा सुख समृद्धि बनी रहती है। घर में लोगों पर कोई भी संकट या परेशानी नहीं आतीतो उसी के पौधे की पूजा करने का एक सकारात्मकऊर्जा का अनुभव होता है जिससे कि सभी नकारात्मक ऊर्जा खत्म हो जाती है। और आसपास का स्थान पवित्र हो जाता हैनियमित तुलसीके पौधे की पूजा करने से भगवान विष्णु प्रसन्न होते हैं क्योंकि उसमेंलक्ष्मी माता का वास होता।

Tulsi Pujan Diwas 2023 :जानिए तुलसी पूजा और विधि

तुलसी पूजन आज के दिन हिंदू धर्म के अनुसार बहुत ही शुभ माना जाता है। तुलसी पूजन 25 दिसंबर कोमनाया जाता है। जिसे तुलसी पूजन दिवस भी कहा जाता है। आज के दिन तुलसी माता कानया पौधा घर में लानाऔर उसकी स्थापना करना बेहद शुभ माना जाता है। स्थापना के साथ-साथ तुलसी के पौधे की पूजा की जाती है,जिससे सुख समृद्धि धन वैभव और खुशहाली आती है। तुलसी में सिंदूर लेकर तुलसी को तिलक किया जाता है तुलसी के पौधे के पास दीपक भी जलाया जाता है, और तुलसी स्त्रोत का पाठ किया जाता है ,और तुलसी में फूल अर्पित किए जाते हैं।

Tulsi pujan diwas

तुलसी पूजन के दिन तुलसी आरती करके पूजा आखिर में संपन्न की जाती है। आरती होने के बाद मीठाभोग लगाया जाता है जिसे प्रसाद स्वरूप सब में बांट दिया जाता है। सर्दी में ठंड के कारण कई पौधे मुरझाने लगते हैं ,तुलसी के पौधे को भी चुनरी उड़ा दी जाती है जिस कारण वह मुरझाए ना। जिस घर में तुलसी का पौधा होता है वहां त्रिदेव यानी ब्रह्मा, विष्णु और महेश विराजते हैं।

Read More – Fighter Movie New Song Ishq Jaisa Kuch Out:गाने में ऋतिक-दीपिका की सिजलिंग केमिस्ट्री कुछ ही देर में वायरल

हिंदू शास्त्रों के अनुसार तुलसी के पौधे में माता लक्ष्मी का वास होता है ,जिसके कारण उसे हरिप्रिया भी कहा जाता है, क्योंकि लक्ष्मी का वास होने के कारण विष्णु जी को तुलसी अति प्रिय होती है,और जो भी भक्त सच्चे मन से तुलसी दिवस के दिन तुलसी माता की पूजा करता है ,और नियमित रूप से जल अर्पित करता है उसके सभी प्रकार के कासन का नाश होता है और घर में सुख समृद्धि आती है सभी प्रकार के कष्ट दूर हो जाते हैं ,मान्यता के अनुसार हर रोज रात में तुलसी कादिया भी लगाया जाता है जिसे भी बेहद शुभ माना जाता है अर्थात इसका एक वैज्ञानिक कारण भी बताया गया हैतुलसी का पौधासिर्फ एक पौधा ही नहीं बल्कि पौष्टिक औषधि भी है। जिसके पत्तों को कई बीमारियों के इलाज के दूर करने के लिए भी किया जाता है।

Read More – Dry Day Movie Review: रिलीज़ के होते ही ट्रेंडिंग में जीतू भैया

Also Read – Sandeep Maheshwari and Vivek Bindra Controversy: संदीप माहेश्वरी और विवेक बिंद्रा के बीच विवाद ? जानिए वजह

Read More – Salaar Part 1 Movie Review: बड़े पर्दे पर बाहुबली की वापसी

for more updated news and information – keep following filmi4web.com

Author

  • Poonam

    Poonam is the Senior Content Creator of the company. She having a good experience in content writing. She is graduate from Punjab University. She mainly write for Entertainment, Technology, Finance & Business.

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *